मुख पृष्ठ हमारे बारे में संगठन संरचना संलग्न एवं अधीनस्थ कार्यालयों प्रधान लेखा कार्यालय

प्रधान लेखा कार्यालय

संरचना

औद्योगिक नीति और सवंर्धन विभाग के विभागीय लेखा संगठन की स्थापना अप्रैल, १९७६ में हुई थी ।

मुख्य लेखा नियंत्रक लेखा संगठन का अध्यक्ष होता है जिसकी सहायता नई दिल्ली में एक लेखा नियंत्रक, एक उपलेखा नियंत्रक और देश के विभिन्न भागों में ९ वेतन तथा लेखा कार्यलायों द्वारा की जाती है । नई दिल्ली स्थित प्रधान लेखा कार्यालय उक्त संगठन के प्रशासनिक केंद्र के रूप में कार्य करता है । नई दिल्ली मुख्यालय में इसका एक आंतरिक लेखा परीक्षा स्कंध भी है ।

इन इकाइयों द्वारा निष्पादित विभिन्न कार्यकलापों का संक्षिप्त विवरण नीचे दिया गया है :

वेतन तथा लेखा कार्यालय

वेतन और लेखा कार्यालय लेखा संगठन की बुनियादी इकाई होती है इसके प्रमुख कार्यों में निम्नलिखित कार्य शामिल हैं –

  • मंत्रालय से संबंधित सभी प्रकार के भुगतान जिनमें मंत्रालय की ओर से विभिन्न स्वायंत्र निकायों के कर्मचारियों के वेतन व ऋण, अनुदान सहायता, राजसहायता का संवितरण, मंत्रालय, संब- अधीनस्थ कार्यालयों तथा बहुत से निकायों के कर्मचारियों के दावे भी जारी किए गए ।
  • वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय की ओर से सदत्त सभी भुगतान एवं वसूली गई प्राप्तियों के लिए मासिक लेखा संकलित करना
  • पेंशन का अधिप्रमाणन करना

प्रधान लेखा कार्यालय
इसके प्रमुख कार्यों में निम्नलिखित शामिल हैं –

  • केन्द्रीय लेखों में सम्मिलित करने के लिए महानियंत्रक को भेजे जाने हेतु सभी वेतन तथा लेखा कार्यालय से प्राप्त मासिक लेखा का समेकन,
  • वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के वार्षिक वित्त तथा विनियोजन लेखे तैयार करना,
  • लेखा संगठन से संबंधित प्रशासनिक तथा संबद्घ पहलू
  • मंत्रालय की प्राप्ति बजट तैयार करना

आंतरिक लेखापरीक्षा स्कंध

आंतरिक लेखापरीक्षा स्कंध ने स्वयं लेखा संगठन और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों तथा अनुदानग्राही संस्थाओं सहित मंत्रालय के विभिन्न एककों के लेखों की अपेक्षित सीमा तक लेखापरीक्षा का कार्य कर लिया था

निष्पादनः

वर्ष के दौरान २००१-०२ का कंपयूटरीकृत जी.पी.एफ वार्षिक विवरण जारी किया गया था । समस्त मासिक लेखे तथा वार्षिक लेखे जैसे विनियोजन लेखे, वित्त लेखे आदि तैयार किए गए तथा निर्धारित समय अनुसूची के अनुसार महालेखा नियंत्रक के लेखा परीक्षा कार्यालय को प्रस्तुत किए गए ।

मंत्रालय और संबद्घ और अधीनस्थ कार्यालयों के कर्मचारियों के वेतन तथा अन्य संबंधित दावों पर वेतन और लेखा कार्यालय द्वारा तुरंत ध्यान देकर उनका तत्काल भुगतान किया गया । पेंशन के मामलों का निपटान कर कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति लाभ के चैक समय पर दे दिए गए । पेंशनभोगियों को संशोधित पेंशन लाभ हेतु पेंशन भुगतान प्राधिकारियों को पेंशन तथा पेंशनभोगी कल्याण विभाग द्वारा समयसमय पर तत्काल अनुदेश जारी किए गए ।

१.३.२००२ से ३०.१.२००२ तक आंतरिक लेखापरीक्षा स्कंध ने ५३ कार्यालयों का निरीक्षण किया । सार्वजनिक बैंकों तथा अनुदानग्राही संस्थाओं को भी इस निरीक्षण स्कंध के दायरे में शामिल कर लिया गया है ।

भुगतान तथा लेखा संबंधी कार्यों को समेकित करने हेतु वेतन एवं लेखा कार्यालयों में “काम्पेक्ट” सॉफ्टवेयर का प्रयोग शुरू किया गया है । ऐसी उम्मीद है कि ३१.३.२००२ तक यह साफ्टवेयर सभी वेतन तथा लेखा कार्यालयों में शुरू कर दिया जायेगा । पारदर्शिता एवं दक्षता में सुधार करने हेतु संगठन की एक वेबसाइट भी निर्मित की जा रही है ।